HIMACHAL PRADESH
 
मुख्य पृष्ठ योजनाएँ अक्षम व्यक्तियों के लिये राज्य योजनाऐं
Visitor No: 709587

विकलांग बच्चों के विशेष स्कूल/ गृह

Print Version  
Last Updated On: 06/06/2013  
 

उद्देश्य

ऐसे विकलांगता बच्चे जिन की आयु 5 से 18 वर्ष हो तथा जो सामान्य स्कूलों में शिक्षा ग्रहण नहीं कर सकते उन्हें निशुल्क शिक्षा/व्यवसायिक प्रशिक्षण उपलब्ध करवाना ।

संस्थानों का विवरण

दृष्टिहीन व मूक बधिर छात्राओं के लिये गृह,सुन्दरनगर (मण्डी) ।

दृष्टिहीन व मूक बधिर छात्रों  के लिये गृह, ढल्ली(शिमला) ।

शारीरिक रूप से विकलांग बच्चों के लिये पाठशाला, धर्मशाला ।

5 से 12 वर्ष तक की आयु के मानसिक रूप से अविकसित बच्चों के लिये प्रेम       आश्रम ऊना ।
सुगम्यता विकल्प  | अस्वीकरण  | कॉपीराइट नीति  | गोपनीयता नीति  | नियम और शर्तें  | हाइपर लिंक नीति  | मदद